यज्ञमय जीवन ही मनुष्य जीवन की सार्थकता : डॉ. प्रणव पण्ड्या

यज्ञमय जीवन ही मनुष्य जीवन की सार्थकता – डॉ. प्रणव पण्ड्या नवरात्र के तीसरे दिन शांतिकुंज में साधकों को संबोधन  हरिद्वार 12 अक्टूबर। अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या ने [...]

Read More

धर्म की जय हो, अधर्म का नाश हो, प्राणियों में सद्भावना हो…

धर्म की जय हो , अधर्म का नाश हो, प्राणियों में सद्भावना हो… धर्म की जय हो , अधर्म का नाश हो, प्राणियों में सद्भावना हो… कुछ इसी विचार को लेकर रिलिजन वर्ल्ड ने आज से एक साल पहले अपनी [...]

Read More

रिलिजन वर्ल्ड प्रथम वर्षगाँठ विशेष: जो अहिंसा से युक्त हो वही धर्म है – भीष्म पितामाह 

रिलिजन वर्ल्ड प्रथम वर्षगाँठ विशेष: जो अहिंसा से युक्त हो वही धर्म है- भीष्म पितामाह  अपनी बात रखने से पहले एक महाभारत कालीन युधिष्ठिर और भीष्म पितामाह के बीच का संवाद बताना चाहती हूँ – जब [...]

Read More

कबीर के मशहूर दोहे…

कबीर के मशहूर दोहे… बुरा जो देखन मैं चला, बुरा न मिलिया कोय, जो दिल खोजा आपना, मुझसे बुरा न कोय। अर्थ: जब मैं इस संसार में बुराई खोजने चला तो मुझे कोई बुरा न मिला। जब मैंने अपने मन में झाँक [...]

Read More

आध्यात्मिक साधना के लिए भारत के दस प्रमुख आश्रम : Ten Famous Ashrams of India for Spiritual Knowledge

आध्यात्मिक साधना के लिए भारत के दस प्रमुख आश्रम : Ten Famous Ashrams of India for Spiritual Knowledge भारत की आध्यात्मिक विरासत से रूबरू होने के लिए पूरी दुनिया से लोग साल भर यहां आते हैं। हिंदू [...]

Read More

क्या कहता है कर्म का सिद्धांत: जानिए कैसे मिलता है कर्मों का फल

क्या कहता है कर्म का सिद्धांत: जानिए कैसे मिलता है कर्मों का फल अवश्यमेव भोताव्यम कृतं कर्म शुभाशुभम नाभुकतम क्षीयते कर्म कल्पकोटीश्तैरपी “अपना किया हुआ जो भी कुछ शुभ अशुभ कर्म है, वेह अवश्य ही [...]

Read More

भाग्य क्या है? इसका वैदिक आधार क्या है? What is fate according to Vedic Wisdom ?

भाग्य क्या है? इसका वैदिक आधार क्या है? What is fate according to Vedic Wisdom ? भाग्य क्या है? यह अपने आप में ही एक बड़ा प्रश्न है। सबके लिए भाग्य की परिभाषा अलग अलग हो सकती है। जैसे कुछ लोगों के [...]

Read More

आत्म जगत या चेतना जगत कैसा होता है? क्या मृत्यु के बाद भी कुछ रहता है?

आत्म जगत या चेतना जगत कैसा होता है? क्या मृत्यु के बाद भी कुछ रहता है? – स्वामी गंगाराम जी   मृत्यु के बाद क्या होता है? ये एक ऐसा प्रश्न है, जो ज्यादातर लोगों के लिए एक अनसुलझी पहेली ही [...]

Read More