दिव्य ज्योति से जगमगाया राजिम कुंभ, एक साथ तीन लाख दिए हुए रोशन, बना रिकार्ड

 In Hinduism

दिव्य ज्योति से जगमगाया राजिम कुंभ, एक साथ तीन लाख दिए हुए रोशन, बना रिकार्ड

दीप प्रज्जवलन का विश्व रिकॉर्ड

राजिम कुंभ कल्प के आठवें दिन नजारा ऐसा था मानो अनगिणत तारों के साथ आसमान जमीन पर उतर आया हो। एक साथ तीन लाख दीपकों से त्रिवेणी संगम जगमगा उठा और पूरा वातावरण दिव्य रोशनी में नहा गया। त्रिवेणी संगम के आस-पास विभिन्न मंदिरों और देवालयों में भी दीप प्रज्जवलन किया गया।

Posted by Pankaj Gupta on 7 फेब्रुवारी 2018

बुधवार को राजिम कुंभ में विशाल संत समागम हुआ और देश के प्रमुख संत-महंत और पीठाधीश्वरों की मौजूदगी में तीन लाख दीप जलाकर इतिहास रचा गया। पहले ढाई लाख दीप प्रज्जवलित करने का लक्ष्य था लेकिन लोगों की मदद से तीन लाख से भी ज्यादा दीप जलाए गए। इस कार्यक्रम को गोल्डन बुक और वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया है।

कार्यक्रम के दौरान शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती समेत सैंकड़ों साध-संत और धर्माचार्य मौजूद रहे। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह भी इस ऐतिहासिक समारोह में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने महानदी के तट पर प्रार्थना भी की। नदी संरक्षण और स्वच्छता का संकल्प- इससे पहले तीन फरवरी को राजिम कुंभ कल्प के दौरान नदी संरक्षण और स्वच्छता की मिसाल भी पेश की गई।

नदी मैराथन आयोजन में स्थानीय और बाहर से आए लोग श्रद्धा और उत्साह से शामिल हुए और नदियों के संरक्षण का संकल्प लिया। धर्म-अध्यात्म और भारतीय संस्कृति के दर्शन- राजिम कुंभ कल्प में हर दिन एक से बढ़कर एक शानदार सांस्कृतिक और धार्मिक आयोजन हो रहे हैं जिनमें श्रद्धालुओं का उत्साह और रोमांच देखते ही बनता है।

इस दौरान लाखों साधु-संत और श्रद्धालु त्रिवेणी संगम में पवित्र स्नान का पुण्य लेंगे और भारत की धार्मिक-आध्यात्मिक रीति-रिवाजों और परंपराओं के दर्शन करेंगे। सरकार की ओर से विशेष इंतजाम- मेले में आने वाले श्रद्धालुओं और संतों की सुविधा का ध्यान रखते हुए सरकार की ओर से विशेष प्रबंध किए गए हैं। कड़े सुरक्षा इंतजामों के साथ ही स्वच्छता का भी विशेष ध्यान रखा जा रहा है। पैरी, सोंढूर और महानदी के संगम पर 31 जनवरी को शुरू हुआ राजिम कुंभ कल्प 13 फरवरी तक चलेगा।

रिपोर्ट – देवेन्द्र शर्मा

Email – Sharmadev09@gmail.com

Recommended Posts
Contact Us

We're not around right now. But you can send us an email and we'll get back to you, asap.

Not readable? Change text. captcha txt

Start typing and press Enter to search