झारखण्ड के मां भद्रकाली मंदिर को बौद्ध सर्किट से जोड़ा जाएगा

 In Buddhism, Hinduism

झारखण्ड के मां भद्रकाली मंदिर को बौद्ध सर्किट से जोड़ा जाएगा

झारखण्ड, 30 अक्टूबर; चतरा में तीन धर्मों की संगम स्थली मां भद्रकाली मंदिर परिसर को बौद्ध सर्किट से जोड़ा जायेगा. राज्य सरकार इसके लिए लगातार प्रयास कर रही है. सूबे के पर्यटन मंत्री अमर बाउरी ने शुक्रवार को चतरा में ये बातें कही.
चतरा जिला मुख्यालय से करीब 35 किलोमीटर की दूरी पर स्थित मां भद्रकाली मंदिर को बौद्ध सर्किट से जोड़ने के लिए राज्य सरकार ने भारत सरकार से आग्रह किया है. इस दिशा में कार्य प्रगति पर है. पर्यटन मंत्री अमर बाउरी ने कहा कि मां भद्रकाली मंदिर राज्य ही नहीं बल्कि पूरे देश का प्रमुख तीर्थ स्थल है. पर्यटन मंत्री अमर बाउरी मां भद्रकाली मंदिर में पूजा अर्चना करने के लिए चतरा आए हुए थे.

यह भी पढ़ें – नालंदा का पावापुरी जलमंदिर जहाँ सबसे पहले लड्डू चढ़ाने को लगती है बोली

इस मौके पर सांसद प्रतिनिधि डॉ. मृत्युंजय एवं स्थानीय भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी मंत्री अमर बाउरी के साथ मंदिर में पूजा अर्चना की. उन्होंने बताया कि बिहार केबोधगया में प्रतिवर्ष लाखों की संख्या में बौद्ध धर्मावलम्बी पहुंचते हैं. उन्होंने बताया कि चतरा जिला का कौलेश्वरी धाम और मां भद्रकाली मंदिर परिसर भी बौद्ध धर्म स्थली है और तीनों को एक सर्किट में जोड़ने की योजना है. इससे पर्यटक बोधगया के साथ-साथ कौलेश्वरी धाम एवं मां भद्रकाली मंदिर परिसर स्थित बौध धर्म स्थली से भी रूबरू हो सकेंगे.

यह भी पढ़ें – महाकालेश्वर शिवलिंग में अब RO के पानी से होगा जलाभिषेक, सुप्रीम कोर्ट ने दिए निर्देश

बता दें कि बोधगया से कौलेश्वरी धाम होते हुए मां भद्रकाली मंदिर तक सड़क निर्माण की योजना है. इस सड़क मार्ग के बनने से इस यह क्षेत्र बौद्ध सर्किट से जुड़ जाएगा.

——————–

रिलीजन वर्ल्ड देश की एकमात्र सभी धर्मों की पूरी जानकारी देने वाली वेबसाइट है। रिलीजन वर्ल्ड सदैव सभी धर्मों की सूचनाओं को निष्पक्षता से पेश करेगा। आप सभी तरह की सूचना, खबर, जानकारी, राय, सुझाव हमें इस ईमेल पर भेज सकते हैं – religionworldin@gmail.com – या इस नंबर पर वाट्सएप कर सकते हैं – 9717000666 – आप हमें ट्विटर , फेसबुक और यूट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकते हैं।
Twitter, Facebook and Youtube.

 

Recommended Posts
Contact Us

We're not around right now. But you can send us an email and we'll get back to you, asap.

Not readable? Change text. captcha txt

Start typing and press Enter to search