कुम्भ मेला 2019: समाचार बुलेटिन 24 जनवरी

 In Hinduism

कुम्भ में संघं शरणं गच्छामि की प्रस्तुति करेंगे स्वयंसेवक

प्रयागराज, 24 जनवरी; गोरखपुर जिले के अभियान थिएटर ग्रुप से जुड़े राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के गणवेशधारी स्वयंसेवकों ने कुम्भ क्षेत्र में प्रस्तुति देने के लिए एक नाटक की रचना की है. इस नाटक के लेखक नरेंद्र देव पाण्डेय है और यह नाटक कुम्भ क्षेत्र में 26 जनवरी को सरस्वती मंच पर प्रस्तुत किया जाएगा. कुम्भ क्षेत्र में संस्कृति विभाग की ओर से सजे मंचों पर लगातार सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति हो रही है. इसी में 26 जनवरी के दिन, शाम पांच बजे सरस्वती मंच पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर आधारित ‘संघं शरणं गच्छामि’ की प्रस्तुति होगी.
इस नाटक के निर्देशक श्रीनारायण पाण्डेय हैं, जिनके निर्देशन में गोरखपुर विश्वविद्यालय के स्वयंसेवकों ने अपने किरदार को बखूबी निभाया है. यह नाटक दो घंटा 15 मिनट का है.
‘संघं शरणं गच्छामि’ के लेखक नरेंद्र देव पाण्डेय ने हिन्दुस्थान समाचार को बताया कि कुम्भ क्षेत्र में यह पहली बार होने जा रहा है, जब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर आधारित किसी नाटक की प्रस्तुति होगी. इसके लिए कलाकार की भूमिका में स्वयंसेवक ही होंगे.
================================== ======

मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जुगनाथ ने तमिल पद्धति से लिया महाप्रायश्चित संकल्प

प्रयागराज, 24 जनवरी; मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्र

प्रयागराज, 24 जनवरी; कुंभ में खतरनाक केमिकल मिलाने की तैयारी कर रहे इस्लामिक स्टेट (आईएस) से प्रेरित आठ संदिग्ध आतंकियों को मुंबई से सटे ठाणे जिले के मुम्ब्रा और औरंगाबाद से एटीएस ने गिरफ्तार किया है. एक नाबालिग को भी हिरासत में लिया गया है. बुधवार को महाराष्ट्र एटीएस चीफ अतुल कुलकर्णी ने यह खुलासा किया. इसे महाराष्ट्र एटीएस और एनआईए की बड़ी कामयाबी के रूप में देखा जा रहा है. सभी को औरंगाबाद मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश कर एटीएस ने रिमांड पर लिया है.
======================================

जूना पीठाधीश्वर अवधेशानंद गिरि से अभिनेत्री हेमामालिनी ने की मुलाकात

प्रयागराज, 24 जनवरी; भाजपा सांसद और जानीमानी अभिनेत्री हेमामालिनी कुंभ मेले में सेक्टर चौदह स्थित प्रभु प्रेमी संघ शिविर पहुंचीं. सड़क मार्ग से वाराणसी से चलकर प्रयागराज पहुंचने पर उन्होंने कुंभ मेला क्षेत्र में जूना पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि से मुलाकात की.बाद में उन्होंने शिविर में लोक परिधानों से सजे नागालैंड और असम संस्कार भारती के जनजातीय कलाकारों की मनोहारी प्रस्तुतियां देखीं तथा उन्हें सराहा.कार्यक्रम में सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक पद्मभूषण डॉ. बिंदेश्वर पाठक, स्वामी कैलाशानन्द गिरि, पुंडरीक गोस्वामी,प्रभु प्रेमी संघ शिविर की अधिशासी प्रभारी महामंडलेश्वर स्वामी नैसर्गिका गिरि, सूचना आयुक्त अरविंद बिष्ट, विनोद अग्रवाल, महेंद्र लाहौरिया, आरके शुक्ला आदि मौजूद थे.वहीं प्रवासी भारतीय कुंभ यात्रा के विशेष सलाहकार राकेश शुक्ल के मुताबिक प्रवासी भारतीयों के स्वागत की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. हेमा मालिनी जी संस्कृति विभाग के मंच पर बृहस्पतिवार को ‘गंगा अवतरण’ पर आधारित नृ़त्य नाटिका प्रस्तुत करेंगी.

=============================
गंगा नदी पर बना पांटून पुल हुआ सही, आवागमन शुरू

प्रयागराज, 24 जनवरी; कुंभ मेला क्षेत्र में अरैल और झूंसी इलाके को जोडऩे के लिए गंगा नदी पर बनाए गए पांटून को दुरुस्त कर दिया गया है. इस पर बुधवार की रात से आवागमन भी शुरू हो गया है. मंगलवार शाम को तेज कटान के कारण पीपे खिसक गए थे, जिससे पुल पर आवागमन रोक दिया गया था. रात में ही पीडब्ल्यूडी के अफसर पहुंच गए थे कार्य शुरू करा दिया गया था. अधिशासी अभियंता आरबी राम ने बताया कि दो पीपे और जोड़े गए. शाम को आवागमन शुरू करा दिया गया. गंगा में अचानक कटान बढऩे से कुंभ के सेक्टर 18 में पांटून पुल संख्या 18 के पीपे दो दिन पूर्व खिसक गए थे. रात के समय होने के कारण पुल पर आवागमन नहीं था, इसलिए हादसा नहीं हुआ. जानकारी हुई तो पीडब्ल्यूडी के अफसर और कर्मचारी पहुंच गए. निरीक्षण करने के बाद उसे ठीक करने में मजदूरों को लगाया गया.
=============================================

कुंभ का महात्म्य बताएगी गीताप्रेस की पुस्तिका

प्रयागराज, 24 जनवरी; गीताप्रेस ने महाकुंभ पर पुस्तिका प्रकाशित की है. इसमें देश में चार स्थानों प्रयागराज, हरिद्वार, नासिक व उज्जैन में हर 12 साल पर लगने वाले महाकुंभ व उस स्थान के माहात्म्य के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई है. हालांकि यह पुस्तिका लगभग 20 साल पहले प्रकाशित की गई थी, लेकिन जब भी कुंभ पड़ता है तो इसका नया संस्करण निकलता है. इस बार आठवां संस्करण उपलब्ध कराया गया है. अब तक इस पुस्तिका की 105000 प्रतियां बिक चुकी हैं. पुस्तिका का नाम ‘महाकुंभ पर्व’ है, जिसका मूल्य पांच रुपये है.

Recommended Posts
Contact Us

We're not around right now. But you can send us an email and we'll get back to you, asap.

Not readable? Change text. captcha txt

Start typing and press Enter to search