वर-वधु के विवाह में नाड़ी दोष का महत्व

वर-वधु के विवाह में नाड़ी दोष का महत्व भारतीय वैदिक ज्योतिष के अंतर्गत नाड़ी का निर्धारण जन्म नक्षत्र से किया जाता है। हर नक्षत्र में चार चरण होते हैं और 9 नक्षत्रों की एक नाड़ी मानी गई है। जन्म  [...]

Read More

नवरात्रि में हर दिन होता है अलग उम्र की कन्या पूजन, क्या है इसका महत्त्व 

नवरात्रि में हर दिन होता है अलग उम्र की कन्या पूजन, क्या है इसका महत्त्व जैसा कि आप सभी जानते हैं कि नवरात्र में हम मां दुर्गा के अलग अलग रूपों की अर्चना करते हैं. नवरात्र में कन्या पूजन के बाद [...]

Read More